Property-Prices-To-Increase-By-10-15-Per-Cent-In-2022-2-1024x576

हरियाणा ऑर्बिटर रेल कॉरिडोर पर मानेसर में बनेगा जंक्शन, 160 Kmph की सेमी हाईस्पीड सब-अर्बन ट्रेन दौड़ेगी

गुड़गांव: हरियाणा रेल इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलेपमेंट कॉर्पोरेशन के अधिकारियों के मुताबिक आर्बिटल रेल काकॉरिडोर पर अब तेजी से काम शुरू होगा। इस ड्रीम प्रॉजेक्ट के सक्षम प्राधिकारी ने अपनी रिपोर्ट केंद्र सरकार को सौंप दी है। इसे मंजूर कर रेल मंत्रालय ने भी इसके लिए ताजा नोटिफिकेशन जारी कर दिया है। नए नोटिफिकेशन से केंद्र सरकार ने परियोजना के निष्पादन, रखरखाव, प्रबंधन और संचालन के उद्देश्य से भूमि का अधिग्रहण जल्द पूरा करने की बात कही है। 121.74 किमी लंबी इस रेलवे लाइन की अधिकतर जमीन अधिग्रहित की जा चुकी है। गुड़गांव में काम भी शुरू हो चुका है, लेकिन सोनीपत के 17 गांवों की 91.60 हेक्टेयर भूमि का अधिग्रहण होना बाकी है।


रेल मंत्रालय के सेक्शन 20 ई के नए नोटिफिकेशन से बची हुई जमीन का अधिग्रहण जल्द हो सकेगा। वहीं मानेसर में बनने वाले जंक्शन पर भी तेजी से काम शुरू हो सकेगा। इसे स्पेशल मारुति समेत गुड़गांव के उद्योगों के लिए बनाया जा रहा है। इससे जिले की लॉजिस्टिक व ऑटोमाबाइल इंडस्ट्री को फायदा होगा। नए जंक्शन पर वेस्टर्न डेडिकेटेड फ्रेट कॉरिडोर के साथ कनेक्टिविटी मिलेगी। पीपीपी मॉडल पर बनने वाले इस प्रॉजेक्ट में मारुति उद्योग, इंटरनैशल कार्गो टर्मिनल, जीएमडीए, ऑल कार्गो लॉजिस्टिक भी शामिल है। इसके बनने से गुड़गांव और आसपास के क्षेत्र में स्थित अडानी लॉजिस्टिक, रिलायंस मॉडल इंडस्ट्रीयल टाउनशिप समेत रिटेल और ऑनलाइन डिलिवरी की बड़ी कंपनियां को फायदा होगा। इसके अलावा मानेसर जंक्शन के माध्यम से कंटेनर, निर्माण सामग्री, सीमेंट, फ्यूल, गैस, ऑटो पार्टस, वाहन, सब्जियां, फूड आइटम, फूड ग्रेन, आयरन एवं स्टील, कोयला, दवाई और खाद का आवागमन सुगम होगा।


इसकी लागत पांच हजार 618 करोड़ रुपये होगी और इस पर 160 किलोमीटर प्रति घंटे की सेमी हाईस्पीड सब-अर्बन ट्रेन दौड़ेगी। डिजाइन सालाना 60 लाख टन माल ढुलाई करने के लिए किया गया है। यहां सालाना 40 लाख यात्री सफर कर सकेंगे। इस मार्ग पर यात्री ट्रेनों के साथ मालगाड़ी भी चलेंगी। यह मार्ग सीधे गुड़गांव को दिल्ली के बाहर से राज्य की राजधानी चंडीगढ़ से जोड़ेंगी। इस लाइन पर न्यू पृथला, सिलानी, सोहना, धुलावट, चांदला डूंगरवास, मानेसर, न्यू पाटली, बाढसा, देवरखाना, बादली, मांडोठी, जसौरखेड़ी खरखौदा व तुर्कपुर में 14 स्टेशन बनाए जाएंगे। जबकि मानेसर, न्यू पातली, सुलतानपुर व मांडोठी भारतीय रेल की दूसरी लाइनों के साथ इंटरचेंज बनाया जाएगा।


हरियाणा आर्बिटल रेल कॉरिडोर पर गुड़गांव के मानेसर से लेकर न्यू पातली तक वर्क शुरू हो चुका है। ताजा नोटिफिकेशन से बची हुई जमीन अधिग्रहण का काम पूरा हो जाएगा। अन्य जगहों के लिए भी टेंडर जारी करने की प्रक्रिया पूरी की जा रही है।


-नरेंद्र डी चुम्बर, परियोजन अधिकारी एवं निदेशक


रूट मार्ग-121.742 किमी
कुल लंबाई-143.932 किमी
टनल-4.88 किमी
छोटे नहरी ब्रिज-195
बड़े नहरी ब्रिज-23
छोटे अंडरपास-137
बड़े अंडरपास-16

Leave a Comment

Your email address will not be published.

Compare